loading...

पीएम मोदी के घर में गरजे राहुल गांधी, बोले- पांच साल के अन्याय को न्याय में बदलेंगे
नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण से पहले राजनीतिक दलों के स्टार प्रचार धुआंधार रैलियों के जरिये पार्टी के लिए वोट मांग रहे हैं। इसी कड़ी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सोमवार को गुजरात के भावनगर में पहुंचे। यहां उन्होंने पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा। राहुल ने 2014 के भाजपा के वायदों को लेकर पीएम मोदी पर तंज कसा। 15 लाख रुपए से लेकर रोजगार तक हर मुद्दे जमकर घेरा।

राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा सरकार जनता से पांच साल में जितने भी वायदे किए सब झूठ साबित हुए। राहुल ने कहा कि 2014 में जब भाजपा ने अपना घोषणा पत्र जनता के सामने रखा तो कई वादे किए लेकिन एक भी पूरा नहीं किया बल्कि झूठ बोलकर जनता को गुमराह किया। नोट बंदी, गब्बर सिंह टैक्स, बेरोजगारी ये सब देश की जनता के साथ किया गया अन्याय है। हम इस अन्याय को न्याय में बदलेंगे।

loading...

यहां से आएगा योजना का पैसा
राहुल ने कहा जब हम न्याय योजना की गरीबों के लिए कुछ करने की बात करते हैं तो पीएम मोदी कहते हैं इसके लिए पैसा कहां से आएगा। हम कहते हैं अनिल अंबानी, विजय माल्या, नीरव मोदी जैसे लोगों से आएगा, जिनके खातों में आपने पैसा डाला है।
न्याय योजना से सुधरेगी अर्थव्यवस्था
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि न्याय योजना के तहत 72 हजार रुपए सालाना जो राशि दी जाएगी वो सीधे महिलाओं के खाते में ट्रांसफर होगी। इससे हिंदुस्तान के किसानों, बेरोजगारों को सीधा फायदा मिलेगा और देश की अर्थव्यवस्था भी तेजी से काम करने लगेगी।

तीन साल तक परमिशन की जरूरत नहीं
राहुल ने अपने भाषण में घोषणा पत्र में किए रोजगार के वादे को फिर दोहराया। उन्होंने कहा कि पिछले 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगार इस बार बढ़ी है। इसकी बड़ी वजह है नोटबंदी और गब्बर सिंह टैक्स (जीएसटी)। राहुल ने कहा कोई भी गुजराती युवा बिजनेस शुरू करना चाहता है तो उसे सरकारी कार्यालय से परमिशन लेना होती है, हमने मेनिफेस्टो में लिखा है गुजरात का युवा व्यापार करना चाहता है तो तीन साल तक कोई परमिशन लेने की जरूरत नहीं।

loading...