बीजेपी की भगवा ब्रांड पर भड़के नीतीश कुमार ने कहा- बर्दाश्त से बाहर है बीजेपी का रवैया ।

बीजेपी की भगवा ब्रांड पर भड़के नीतीश कुमार ने कहा- बर्दाश्त से बाहर है बीजेपी का रवैया ।

loading...

पटना: मध्य प्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा राजनीतिक भविष्य खतरे में दिख रहा है। साध्वी द्वारा महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे के महिमामंडन से नाराज विपक्ष पहले ही बीजेपी पर सवाल खड़े कर रही है। वहीं अब बीजेपी के सहयोगी दल भी खुल कर साध्वी की आलोचना कर रहे हैं। न सिर्फ आलोचना कर रहे हैं कि बल्कि बिहार के मुख्यमंत्री और एनडीए सहयोगी नीतीश कुमार में साध्वी के बयान को बर्दाश्त से बाहर करार देते हुए पार्टी से निकाले जाने की मां की है।

दरअसल, मालेगांव बम धमाके में आरोपी साध्वी राजनीति में आने के साथ ही विवादों से घिरी है। इससे पहले उन्होंने मुंबई आतंकी हमले में शाहिद हुए एटीएस अधिकारी हेमंत करकरे के लिए अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था। करकरे के अपमान पर जारी घमासान अभी खत्म भी नहीं हुआ था कि साध्वी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को राष्ट्रभक्त करार देते हुए कहा कि वह देशभक्त थे और देशभक्त रहेंगे। साध्वी के इस बयान पर विपक्ष के साथ-साथ बीजेपी ने भी कड़ी आलोचना की है।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने पहले ही साफ किया है कि अनुशासन समिति मामले को देख रही है। जबकि पीएम मोदी ने भी साफ शब्दों में कहा है कि साध्वी ने भले ही अपने बयान के लिए माफी मांग ली है। लेकिन मैं दिल से उन्हें कभी माफ नहीं कर सकूंगा। वहीं लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण के तहत बिहार की आठ लोकसभा सीटों पर रविवार को जारी मतदान के बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी वोट डाला। इस दौपरान मीडिया से बात करते हुए कुमार ने साध्वी की बयान की कड़ी निंदा करते हुए तिखी प्रतिक्रिया दी।
बीजेपी की सहयोगी जनता दल (युनाइटेड) के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा कि गोडसे को राष्ट्रभक्त कहना निंदनीय है। उनके खिलाफ क्या कार्रवाई होती है, यह उनकी पार्टी का आंतरिक मामला है। मैं इतना जरूर कहूंगा कि ऐसे बयान को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाना चाहिए।

loading...
Please follow and like us:
error0
loading...

Leave a Comment